रिपोर्ट/इमरान मंसूरी/मनोज कुमार

महमूदाबाद/सीतापुर। तहसील महमूदाबाद क्षेत्र के सिरौली में स्थित विश्व बैंक विद्युत लाइन का एक बिजली का पोल तेज हवाओं व बारिश की वजह से टूट गया था। आज करीब चार पांच दिन बीते जा रहे हैं।

फिर भी विद्युत विभाग के अधिकारी व कर्मचारी टूटे हुए पोल पर कोई भी संज्ञान नहीं ले रहे हैं। जिससे सिरौली पुरवा गांव के ग्रामीणों को बिजली नहीं मिल पा रही है। और सिरौली चौराहे पर सभी लोगों को बिजली का लाभ प्राप्त होता देख सिरौली पुरवा के विद्युत कनेक्शन धारक परेशान होते नजर आ रहे हैं।

और विद्युत विभाग के क्षेत्रीय कर्मचारी यदि पुल टूटने से पहले इस पोल पर पहले कभी नजर डाल लेते तो आज यह कमजोर पोल ना टूटता। क्योंकि ग्रामीणों के अनुसार बताया गया कि यह बिधुत पोल आधा पहले से ही टूटा था और आधा विद्युत पोल लगा था।

और ग्रामीणों का कहना है कि विद्युत विभाग के कर्मचारी इसी पोल के पास में लगे हुए । दूसरे विद्युत पोल पर चढ़कर तार जोड़ने का व तार हटाने के लिए पास में लगे पोल पर चढ़कर देखा करते थे ।लेकिन पास में लगे कमजोर बिधुत पोल को नजरअंदाज कर दिया करते थे। जिससे बीते दिनों पहले तेज हवाओं व तेज बारिश की वजह से विद्युत पोल कमजोर होने के कारण टूट गया ।

जिसका खामियाजा ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है।33/11विद्युत उप केंद्र महमूदाबाद से संचालित बिजली सिरौली पुरवा गांव में नही पहुंच पा रही है। विद्युत आपूर्ति बिल्कुल ठप हो गई है। जिससे ग्रामीण बहुत परेशान नजर आ रहे हैं।

ग्रामीणों से बात की गई तो ग्रामीणों ने बताया कि इसकी शिकायत लिखित में तो नहीं की गई है। लेकिन मौखिक में क्षेत्रीय लाइनमैन व अन्य विद्युत कर्मचारियों को अवगत कराया गया है। तो विद्युत कर्मचारी ग्रामीणों को झूठा आश्वासन देते है। और आज चार-पांच दिन बीत गए फिर भी विद्युत पोल को सही नहीं कर पाए हैं।

जिससे ग्रामीण परेशान हो चुके हैं। और विद्युत विभाग के कर्मचारी उपरोक्त प्रकरण पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। विद्युत कनेक्शन धारक राजेश कुमार, बृजेश कुमार, हरि नाम, सियाराम, बसंते, हरिशंकर, नवमी लाल, नंदलाल सहित अन्य सिरौली पुरवा गांव के निवासी बिजली ना मिलने की समस्या को मीडिया के माध्यम से विद्युत विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों तक पहुंचाने की बात कही है।