रिपोर्ट । पंकज सिंह

om prakash rajbhar

लखनऊ । केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ अपना दल (एस) और निषाद पार्टी की नेताओं की बैठक पर सुहेहदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और योगी सरकार में मंत्री रह चुके ओम प्रकाश राजभर ने बीजेपी पर निशाना साधा। राजभर ने बीजेपी को एक डूबता हुआ जहाज बताया है। राजभर ने कहा कि बीजेपी को चुनाव के वक्त ही पिछड़ों की याद आती है और सीएम बनाने के लिए लोगों को बाहर से लाकर बना देते हैं।

ओम प्रकाश राजभर ने ट्वीट कर कहा कि भाजपा पिछड़ो का वोट कैसे मिले इसके लिए पिछड़ो के कुछ नेताओं को दिल्ली बुलाकर आश्वासन देना शुरू कर दी है, भाजपा (भारतीय झूठ पार्टी) पिछड़ों को हिस्सेदारी कब देगी, पिछड़ो का आरक्षण लूटने वाले बताए,सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट कब लागू होगी? अगर लागू नहीं हुआ तो 2022 में विदाई तय है। एक दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा कि भाजपा डूबती हुई नैया है, जिसको इनके रथ पर सवार होना है हो जाये पर हम सवार नहीं होंगे,जब चुनाव नजदीक आता है तब इनको पिछड़ो की याद आती है जब मुख्यमंत्री बनाना होता है तो बाहर से लाकर बना देते है,हम जिन मुद्दों को लेकर समझौता किये थे साठे चार साल बीत गया एक भी काम पूरा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि उ.प्र.में शिक्षक भर्ती में पिछड़ो का हक लुटा,पिछड़ो को हिस्सेदारी न देने वाली भाजपा किस मुह से पिछड़ो के बीच मे वोट मांगने आएंगी इनको सिर्फ वोट के लिए पिछड़ा याद आते है। हमने भागीदारी संकल्प मोर्चा बनाया है जो भी उप्र. में भाजपा को हराना चाहते है हम उनसे गठबंधन करने को तैयार है।

भापजा के साथ था गठबंधन : 

ओम प्रकाश राजभर 2017 में बीजेपी के साथ थे और योगी सरकार के गठन के बाद उन्हें पिछड़ा वर्ग विभाग का मंत्री बनाया गया था। राजभर ने बाद में बीजेपी से रिश्ता तोड़ लिया था और फिर योगी सरकार के खिलाफ लगातार बयान देते दिखे थे। इस वक्त राजभर का बयान ऐसी स्थितियों में आया है कि सीएम योगी दिल्ली में हैं। उनके दिल्ली पहुंचने के दिन ही बीजेपी के बड़े नेताओं ने पिछड़ी जाति की नेता अनुप्रिया पटेल और निषाद पार्टी के प्रमुख संजय निषाद से भेंट की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *