रिपोर्ट/इमरान मंसूरी

नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुडुचेरी विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया. चुनाव आयोग ने दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह ऐलान किया. सुनील अरोड़ा ने बताया कि पुदुचेरी, केरल और तमिलनाडू में चुनाव एक ही चरण में होंगे. तीनों राज्यों में 6 अप्रैल को वोटिंग होगी और चुनावी नतीजे 2 मई को आएंगे.

बंगाल में 8 चरणों में होगा मतदान:
पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में मतदान होगा. बंगाल में 27 मार्च को पहले चरण में मतदान होगा. दूसरे चरण में 1 अप्रैल को मतदान होगा.

पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में होंगे चुनाव
-27 मार्च को पहले चरण का मतदान
-1 अप्रैल को दूसरे चरण का होगा मतदान
-6 अप्रैल को तीसरे चरण का होगा मतदान
-10 अप्रैल को चौथे चरण का होगा मतदान
-17 अप्रैल को पांचवें चरण का होगा मतदान
-22 अप्रैल को छठे चरण का होगा मतदान
-26 अप्रैल को सातवें चरण का होगा मतदान
-29 अप्रैल को आठवें चरण का होगा मतदान
-2 मई को आएंगे विधानसभा चुनाव के नतीजे

असम में 3 चरणों में होंगे मतदान:
असम में विधानसभा चुनाव 3 चरणों में होंगे. मतगणना 2 मई को होगी. चुनाव की अधिसूचना 2 मार्च को जारी होगी. नामांकन की आखिरी तिथि 9 मार्च हैं. नामांकन पत्रों की जांच 10 मार्च को होगी. नाम वापसी की तिथि 12 मार्च हैं. 27 मार्च को मतदान होगा. जबकि परिणाम मई को आएंगे.

पुडुचेरी में 6 अप्रैल को मतदान:
केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में एक चरण में मतदान होगा. नतीजे 2 मई को आएंगे. चुनाव की अधिसूचना 12 मार्च को जारी होगी. नामांकन की आखिरी तिथि 19 मार्च हैं. नामांकन पत्रों की जांच 28 मार्च को होगी. 22 मार्च नाम वापसी की तिथि है. 6 अप्रैल को मतदान होगा. जबकि नतीजे 2 मई को आएंगे.

तमिलनाडु और केरल में 1 चरण में मतदान:
तमिलनाडु और केरल में महज एक चरण में मतदान होगा. मतदान 6 अप्रैल को होगा. मतगणना दो मई को कराई जाएगी. इसी तरह केरल में भी 6 अप्रैल को ही मतदान होगा.