रिपोर्ट/इमरान मंसूरी

सीतापुर/जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में सभी खण्ड विकास अधिकारियों की बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिये कि वर्तमान वित्तीय वर्ष के लिये निर्धारित सभी लक्ष्यों को इस माह के अन्त तक पूर्ण करें। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी सामुदायिक शौचालयों एवं पंचायत भवनों के कार्य को एक सप्ताह के भीतर पूर्ण कराना सुनिश्चित करें।

उन्होंने निर्देश दिये कि डोंगल के क्रियान्वयन से संबंधित कार्यों को दो दिन के भीतर पूर्ण कराते हुये सभी लम्बित भुगतान कराया जाना सुनिश्चित करें। साथ ही जहां पर सामूहिक विवाह आयोजित नही हुये हैं, वहां प्राथमिकता के आधार पर आयोजित करायें। पूर्ण हो चुके सामुदायिक शौचालयों को तत्काल क्रियाशील किये जाने के निर्देश भी जिलाधिकारी ने दिये।

जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि कन्या सुमंगला योजना के लम्बित फार्मों को तत्काल अग्रसारित कराया जाये। उन्होंने मिशन कायाकल्प के अन्तर्गत उपलब्ध धनराशि के आधार पर सभी कार्यों को तत्काल प्रारम्भ कराते हुये शीघ्र पूर्ण कराये जाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि जहां पर शौचालय की जियोटैगिंग अभी तक नही हुयी है उसे प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण कराया जाये।

सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिये कि स्वयं सहायता समूहों का गठन एवं क्रियाशील कराये जाने से संबंधित कार्यों की नियमित समीक्षा करें। साथ ही सी0सी0एल0 कराया जाना सुनिश्चित करें। शादी अनुदान से संबंधित प्रकरणों की समीक्षा करते हुये लाभार्थियों को शीघ्रता से लाभान्वित कराये जाने को कहा।

जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण की भी समीक्षा की। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिये कि सभी प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों में पेजयल की उपलब्धता सुनिश्चित की जाये तथा जहां पर हैण्डपम्प खराब हैं उन्हें प्राथमिकता के आधार पर चिन्हित करते हुये ठीक कराया जाये।

बैठक के दौरान जिला विकास अधिकारी राकेश कुमार पाण्डेय, पी0डी0डी0आर0डी0ए0 ए0के0 सिंह, उपायुक्त श्रम एवं रोजगार सुशील कुमार श्रीवास्तव सहित सभी खण्ड विकास अधिकारी एवं ए0डी0ओ0 पंचायत उपस्थित रहे।